आखिर कैसे एक अपाहिज बन गया WWE सुपरस्टार जानिए विस्तार से

wwe

मेहनत करने वालों को एक दिन उसका फल जरूर मिलता है और कोशिश करने वालों को कभी हार नहीं होती यह वाक्य बिल्कुल सत्य है और जैक गोवेन इन दोनों वाक्य पर खरे उतरे है.

credit image mlive

जैक गोवेन का जन्म 30 मार्च ,1983 अमेरिका के इप्सलिन्ति मीचिगैन शहर में हुआ.उन्हें बचपन में ही कैंसर जैसे बीमारी का सामना करना पड़ा,डॉक्टरो को उनकी जान बचाने के लिए बाएँ पैर को काटना पड़ा गया.

जैक गोवेन को रेसलिंग का बहुत शौक था लेकिन एक पैर होने के वजह से वह काफी निराश हुआ करते थे,उनके पास दो रास्ते थे यह तो कमजोरी को मजबूरी में ही रहने दे यह अपने कमजोरी को ताकत में बदल जाये.लेकिन कहते है ने मेहनत एक दिन जरूर रंग लाती है, ठीक ऐसा ही हुआ.

उन्होंने ठान लिया उन्हें रेसलिंग ही करनी है,शुरू में उन्हें काफी तकलीफ हुई लेकिन जैसे जैसे समय बीतता गया वह मेहनत करते गए और साल 2003 में उन्हें डब्ल्यूडब्ल्यूई का कौन्ट्रैक्ट मिल ही गया और वह दुनिया पहले रेसलर बन गए जिन्होंने एक पैर पर रेसलिंग की.

wikiwand credit image

डब्ल्यूडब्ल्यूई के अलावा उन्होंने टीएनए,जुगलो,रिंग ऑफ ऑनर,इंडीपेंडेंट सर्किट जैसे और कई रेसलिंग कंम्पनियों में काम किया.

1 Trackback / Pingback

  1. WWE चैंपियन जिंदर महल ने ललकारा Universal चैंपियन ब्रोक लेस्नर को

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*